• May 29, 2024

E-Mobility, अमेजॅन इंडिया ने महिंद्रा इलेक्ट्रिक के साथ अपनी साझेदारी की घोषणा की

 E-Mobility, अमेजॅन इंडिया ने महिंद्रा इलेक्ट्रिक के साथ अपनी साझेदारी की घोषणा की

E-Mobility, अमेजॅन इंडिया ने महिंद्रा इलेक्ट्रिक के साथ अपनी साझेदारी की घोषणा की

Sharing Is Caring:

बाजार। देश में E-Mobility के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को मजबूती प्रदान करते हुए अमेजॅन इंडिया ने महिंद्रा इलेक्ट्रिक के साथ अपनी साझेदारी की घोषणा की। गौरतलब है कि 2020 में अमेजन इंडिया ने घोषणा की थी कि भारत में उसके डिलीवरी वाहनों के बेड़े में 2025 तक 10000 इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी-Electric Vehicle) शामिल हो जायेंगे। ये ईवी 2030 तक डिलीवरी बेड़े में 100000 इलेक्ट्रिक वाहनों की वैश्विक प्रतिबद्धता के अलावा हैं जिसके लिए अमेजन ने क्लाइमेट प्लेज में हस्ताटक्षर किये हैं।

सरकार का ध्यान देश में E-Mobility को अपनाने के लिए प्रोत्साहन देने पर केंद्रित-

महिंद्रा इलेक्ट्रिक के साथ अमेजन की यह साझेदारी अपने पर्यावरणीय सस्टेनेबिलिटी के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए ई-मोबिलिटी उद्योग में भारत की प्रगति की दिशा में अमेजन का एक महत्वपूर्ण कदम है। महिंद्रा ट्रिओ जोर वाहनों को अब तक सात शहरों में तैनात किया गया है जिनमें बेंगलुरु, नई दिल्ली, हैदराबाद, अहमदाबाद, भोपाल, इंदौर और लखनऊ शामिल हैं। जहां अमेजन इंडिया के डिलीवरी सर्विस पार्टनर्स का नेटवर्क है। पिछले कुछ वर्षों में भारतीय E-Mobility उद्योग में हुई महत्वपूर्ण प्रगति के कारण एडवांस्ड टेक्नोलॉजी और बेहतर मोटर और बैटरी कम्पोनेंट्स उपलब्ध हुए हैं। इसके अलावा सरकार का ध्यान देश में इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने के लिए प्रोत्साहन देने पर केंद्रित है और एफएएमए 2 नीति के साथ चार्जिंग इंफ्रास्ट्र क्चकर की स्थापना की दिशा में उठाये गये कदमों से भारत में ईवी के लिए अपने दृष्टिकोण को तेज बनाने और निर्धारित करने में कंपनी को मदद मिली है।

अमेजन इंडिया और महिंद्रा इलेक्ट्रिक के बीच साझेदारी ई-मोबिलिटी उद्योग में महत्वपूर्ण कदम-

अमेजन इंडिया के बेड़े में इन इलेक्ट्रिक वाहनों को शामिल करना सस्टेरनेबल आत्म निर्भर भारत बनाने के लिए इलेक्ट्रिक मोबिलिटी और ‘मेक इन इंडिया’ वाले ईवी पर भारत सरकार द्वारा दिये जा रहे ध्यान में सहयोगी भूमिका निभाता है। नितिन गडकरी सड़क परिवहन और राजमार्ग सूक्ष्म लघु और मध्यम उद्यम मंत्री भारत सरकार ने कहा कि जलवायु परिवर्तन को रोकने की कार्रवाई में स्वच्छ ऊर्जा द्वारा संचालित स्वच्छ मोबिलिटी की महत्वपूर्ण भूमिका है। अमेजन इंडिया और महिंद्रा इलेक्ट्रिक के बीच साझेदारी स्वागत योग्य कदम है जो E-Mobility उद्योग में भारत की महत्वपूर्ण प्रगति की पुष्टि करता है और हमारे पर्यावरण के सस्टेभनेबिलिटी लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए ऑटो निर्माताओं और ई-कॉमर्स कंपनियों की भूमिका की पहचान स्थापित करता है। हमें विश्वास है कि देश में इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने के लिए सरकार के प्रयासों और नीतिगत उपायों द्वारा समर्थित इंफ्रास्ट्रवक्चईर की स्थापना की दिशा में उठाये गये कदमों से अधिक से अधिक कंपनियों को E-Mobility अपनाने में मदद मिलेगी।

यह भी पढ़ें : हीरो इलेक्ट्रिक बाइक्स को मिल रही बम्पर इंक्वायरी, वजह रही यह…

भारत के सार्वजनिक और निजी क्षेत्र का गतिशील नेतृत्व उद्यमशीलता की संस्कृति विश्व स्तरीय इंफ्रार्सि्ट्क्चर निर्माण की क्षमता और आईटी तथा मैन्यू्फैक्चनरिंग कौशल का अनूठा संगम हमें एडवान्ड्ट्र मोबिलनिटी सॉल्यूतशंस प्रदान करने हेतु वैश्विक नेतृत्व की स्थिति हासिल करने में सक्षम बनायेगा।

अखिल सक्सेना वी0पी0 कस्टमर फुलफिलमेंट ऑपरेशंस एपीएसी एम0ई0एन0ए0 एवं एल0ए0टी0ए0एम0 अमेजन ने कहा कि “हम अपने ऑपरेशंस के पर्यावरणीय प्रभाव को कम से कम करने के लिए एक सप्लाई चेन बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। 2025 तक हमारे इलेक्ट्रिक वाहन बेड़े में 10000 वाहन शामिल हो जायेंगे जो उद्योग में एक सस्टेनेबिलिटी लीडर बनने की हमारी यात्रा में महत्वपूर्ण पड़ाव के तौर पर होंगे। हम ‘मेड इन इंडिया’ इलेक्ट्रिक वाहनों का बेड़ा बनाने के लिए कई ओईएम के साथ काम कर रहे हैं जो कस्टमर्स के ऑर्डर की सस्टेनेबल और सुरक्षित डिलीवरी सुनिश्चित करते हैं और महिंद्रा इलेक्ट्रिक के साथ यह साझेदारी हमारी प्रतिबद्धता का प्रमाण है।”

Sharing Is Caring:

Admin

https://nirmanshalatimes.com/

A short bio about the author can be here....

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *